You are currently viewing IAS ऑफिसर कैसे बनें, आईएएस बनने के लिए योग्यता क्या है – 7 Best Points

IAS ऑफिसर कैसे बनें, आईएएस बनने के लिए योग्यता क्या है – 7 Best Points

इस आर्टिकल में आप जानेंगे कि एक IAS ऑफिसर कैसे बनें और IAS बनने के लिए क्या करें? इसके लिए आपके पास क्या योग्यता होनी चाहिए?

दोस्तों, IAS यानि Indian Administrative Service भारत की सबसे प्रतिष्ठित सेवा मानी जाती है और जिसके लिए UPSC (संघ लोक सेवा आयोग) हर साल परीक्षा आयोजित करता है।

वैसे तो संघ लोक सेवा आयोग 24 प्रकार की परीक्षाओं का आयोजन करता है जैसे IAS, IRS, IPS, IFS, NDA, CDS आदि, परन्तु उनमे से IAS परीक्षा सबसे महत्वपूर्ण मानी गयी है जिसके द्वारा देश के महत्वपूर्ण प्रशासनिक पदों पर नियुक्ति की जाती है जिनमे ADM, DM, DC, Ministerial Secretary आदि प्रमुख प्रशासनिक पद होते है।

IAS परीक्षा देश की सबसे कठिन परीक्षा है और हर साल लाखो विद्यार्थी इस परीक्षा का हिस्सा बनते है परन्तु उनमे से कुछ ही इसमें सफल हो पाते है।

अगर आप भी एक IAS बनने का सपना देख रहे है तो यह पोस्ट आपको जरूर पड़नी चाहिए क्योंकि इस पोस्ट में मैं आपको बताऊंगा की आप एक IAS ऑफिसर कैसे बनेंगे और आईएएस बनने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए?

दोस्तों कहा जाता है कि इस दुनिया में असंभव कुछ भी नहीं ठीक उसी तरह एक आई ए एस बनना भी असंभव नहीं है। बस जरुरत है तो बेहतर रणनीति और पूरी तैयारी की। 

तो आईये अब विस्तार से जानते है कि आप एक IAS ऑफिसर कैसे बनेंगे और इसके लिए आपमें क्या योग्यता होनी चाहिए –

आप एक IAS ऑफिसर कैसे बनेंगे, आईएएस बनने के लिए योग्यता-

जिस तरह किसी भी नौकरी/ पद को पाने के लिए निर्धारित योग्यता और एक परीक्षा से गुजरना अनिवार्य होता है ठीक उसी तरह एक आई ए एस बनने के लिए भी आपको उस प्रोसेस से गुजरना होता है।

अतः यहाँ हम इसकी पूरी प्रक्रिया के बारे में चर्चा करेंगे। तो आईये जानते है। 

आप ये भी पढ़े :

1. नागरिकता

इसके लिए आपको एक भारतीय नागरिक होना जरुरी है। इसके अलावा नेपाल और भूटान के नागरिक भी इस परीक्षा को दे सकते है। तिब्बती शरणार्थी जो 1 जनवरी 1962 से पहले भारत आकर बस गए हो। 

इसके अलावा वो व्यक्ति जो “इथियोपिया, मलावी, केन्या, म्यांमार, श्रीलंका, पाकिस्तान, तंजानिया, युगांडा, जायरे, वियतनाम या ज़ाम्बिया” से आकर भारत में स्थायी रूप से बस चुके है और भारत की नागरिकता ले चुके है वो भी इसके लिए आवेदन कर सकते है। 

2. आयु सीमा:

जनरल केटेगरी के लिए उम्र सीमा 21 से 32 वर्ष है। इस कैटेगरी के परीक्षार्थी इसके लिए 6 बार इस परीक्षा में बैठ सकते है।

SC/ST उम्मीदवार के लिए उम्र सीमा 21 से 37 साल है। ये अपनी आयु सीमा में कितनी बार भी इस एग्जाम को दे सकते है। इसके लिए कोई अटेम्प्ट निर्धारित नहीं है। 

OBC उम्मीदवार के लिए उम्र सीमा 21 से 35 वर्ष निर्धारित की गयी है जिसके दौरान ये उम्मीदवार अधिकतम 9 बार इस परीक्षा में बैठ सकते है। 

ध्यान दे:
“यहाँ आप इस बात का ध्यान दे कि मात्र परीक्षा के लिए एप्लीकेशन फॉर्म भरने पर ही आपका एटेम्पट नहीं गिना जायेगा अपितु जब आप इस परीक्षा में भाग लेते है तब ही आपका एक एटेम्पट गिना जायेगा।” 

फिजिकल डिसएबल वाले उम्मीदवार के लिए आयु सीमा 21 से 42 साल निर्धारित की गयी है जिसके दौरान जनरल और OBC उम्मीदवार अधिकतम 9 बार इस परीक्षा को दे सकता है।

SC/ST उम्मीदवार के लिए ऐसी कोई लिमिट नहीं है। वे चाहे जितनी बार इस एग्ज़ाम को दे सकते है। 

जम्मू कश्मीर अधिवास के नागरिको जिनमे जनरल केटेगरी के लिए अधिकतम 37 वर्ष, OBC के लिए 40, SC/ST के लिए 42 और फिजिकल हैंडीकैप के लिए 50 वर्ष आयु सीमा निर्धारित है। 

डिसएबल सर्विसमेन और डिसएबल फ्रॉम ड्यूटी कैंडिडेट के लिए आयु सीमा 37 वर्ष(जनरल), 38(OBC), 40 (SC/ST) निर्धारित है।  

3. शैक्षणिक योग्यता:

आपको किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी स्ट्रीम में ग्रेजुएशन होना जरुरी है। अगर आप अभी अपनी बैचलर डिग्री के अंतिम वर्ष में है तब भी आप इस परीक्षा के लिए अप्लाई कर सकते है।  

परीक्षा के लिए अप्लाई करने के लिए ग्रेजुएशन में प्राप्तांको का कोई निर्धारित मानदंड नहीं है। 

मतलब चाहे आपने ग्रेजुएशन में कितने भी अंको से पास हुए हो, फिर चाहे आप थर्ड डिवीज़न में पास क्यों न हुए हो आप फिर भी इस एग्जाम के लिए अप्लाई कर सकते है

क्योंकि आपकी योग्यता को परखने के लिए यू पी एस सी आपको एक कठिन एग्जाम से गुजारता है जिससे वो आपके अंदर छुपा हुआ एक IAS पहचान लेता है।    

4. सिविल सर्विस एग्जाम के लिए अप्लाई करे:

यू पी एस सी द्वारा हर साल सिविल सर्विसेज के लिए परीक्षाएं आयोजित की जाती है जिसके लिए हर साल जनवरी से अप्रैल के बीच ऑनलाइन एप्लीकेशन प्रक्रिया शुरू की जाती है। 

इसलिए अगर आप भी इस एग्जाम में बैठने की योग्यता रखते है तो आपको भी इसके लिए अप्लाई जरूर करना चाहिए।

ऑनलाइन अप्लाई करने के बाद परीक्षा के 3 चरण से होकर गुजरना होगा जिसमे सबसे पहले Pre Exam उसके बाद Main Exam और अंत में Interview पास करना होगा।  

5. प्री एग्जाम क्लियर करें:

प्री एग्जाम में दो कम्पलसरी ऑब्जेक्टिव टाइप पेपर होते है। इनमे प्रत्येक प्रश्न पत्र 200 नंबर का होता है।

इस प्री एग्जाम के प्राप्तांक फाइनल रैंकिंग में गिने नहीं जाते है बल्कि मुख्य एग्जाम के लिए ही प्री एग्जाम को क्लियर करना पड़ता है। 

6. मैन एग्जाम क्लियर करे:

प्री एग्जाम क्लियर कर लेने के बाद अब आपको मैन एग्जाम क्लियर करना होगा। इस एग्जाम में कुल 9 written पेपर देने होते है जिनमे से 7 पेपर के प्राप्तांक ही आपके फाइनल स्कोर में गिने जाते है।

ये परीक्षा कुल 1750 नंबरों की होती है जिनमे-
पेपर 1 –  निबंध 250 नंबर
पेपर 2-5 – सामान्य अध्ययन 250 x 4 = 1000 
पेपर 6,7 – ऐच्छिक विषय (Optional Subject) 250 x 2= 500
पेपर 8 – Indian Language (भारतीय सविधान की 8 वी अनुसूची में दी गयी कोई भी एक भारतीय भाषा) 300 नंबर 
पेपर 9 – अंग्रेजी भाषा 300 नंबर होते है। 

इनमें से आपको अंतिम दो पेपर यानि Indian Language और अंग्रेजी प्रश्न पत्र केवल पास ही करने होते है इनके प्राप्तांक फाइनल रैंकिंग में गिने नहीं जाते है।

अतः आपको इस मुख्य परीक्षा में ज्यादा से ज्यादा अंक प्राप्त करने के लिए खूब मेहनत से पढ़ाई करनी होगी। 

7. इंटरव्यू क्वालीफाई करें: 

मैन एग्जाम को क्लियर करने पर ही आप इंटरव्यू के लिए क्वालीफाई हो पाएंगे। ये पर्सनेल इंटरव्यू 250 अंको का होगा जिसमें एक इंटरव्यू बोर्ड द्वारा आपसे कुछ प्रश्न पूछे जाते है

जिसके द्वारा आपकी मानसिक सतर्कता, आत्मसात की महत्वपूर्ण शक्तियां, स्पष्ट और तार्किक अभिव्यक्ति, निर्णय का संतुलन, विविधता और रुचि की गहराई, सामाजिक सामंजस्य और नेतृत्व की क्षमता, बौद्धिक और नैतिक अखंडता आदि गुणों की परख की जाती है।   

ये इंटरव्यू लगभग 45 मिनट का होता है जिसमे आपकी बॉडी लैंग्वेज से लेकर आपके बौद्धिक स्तर को परखा जाता है। इस इंटरव्यू के प्राप्तांक आपके फाइनल रैंकिंग में गिने जाते है।   

इसलिए इस अंतिम चरण को पार करने के लिए आप शुरुआत से ही अपने आप को मॉक इंटरव्यू से गुजारने की कोशिश करे ताकि अंत में आप इस last barrier को भी क्रॉस कर सके।   

अंत में:

तो दोस्तों आपने इस पोस्ट में जाना कि आप IAS ऑफिसर कैसे बनें? इसलिए अगर आप एक आई एस बनने की सोच रखते है तो इसके लिए आपको अभी से ही योजना बनाकर इसके लिए मेहनत करना शुरू कर देना चाहिये। 

अगर आपको ये पोस्ट पसंद आयी हो तो इसे अपने दोस्तों में भी शेयर करे और ऐसी ही और इंटरेस्टिंग जानकारी पाने के लिए हमारे इस ब्लॉग को सब्सक्राइब करे। 
धन्यवाद।

आप ये भी पढ़े:

Rakesh Verma

Rakesh Verma is a Blogger, Affiliate Marketer and passionate about Stock Photography.

Leave a Reply