You are currently viewing Cricket Me Career Kaise Banaye? – Best Guide 2022

Cricket Me Career Kaise Banaye? – Best Guide 2022

आज पूरी दुनिया बैट, बॉल और विकेट्स की दीवानी हो रही हैं और शायद आप भी क्रिकेट मैच का लुफ्त उठाते होंगे। पर क्या आपको पता हैं कि क्रिकेट में शानदार Career भी बनाया सकता हैं। आज इस लेख में हम इसी के बारे में बात करने वाले हैं कि Cricketer Kaise Bane, Cricket Me Career Kaise Banaye?

आईये इसके बारे में विस्तार से जानते हैं-

Cricket Me Career Kaise Banaye?

देश के लिए क्रिकेट खेलना आसान नहीं होता हैं। इसके लिए आपको कठिन मेहनत के साथ-साथ निरंतर अभ्यास (Practice) करना पड़ता हैं।

क्रिकेट खिलाड़ी बनने के लिए अच्छी Physical Fitness और बॉलिंग, बैटिंग व् फील्डिंग में महारत होना जरुरी हैं। उसके अंदर हार को झेलने की क्षमता होनी चाहिए। वह हर परिस्थिति और मौसम घुल मिल सकता हो।

आईये जानते हैं कि आप क्रिकेट में एक शानदार Career किस तरह बना सकते हैं-

बीसीसीआई (BCCI) का महत्वपूर्ण रोल:

भारत में घरेलु मैच इन फॉर्मेट्स में होते हैं – First Class, List A और T-20 मैच। इन सभी मैचों के लिए भारत में खिलाड़ियों का चयन BCCI के द्वारा किया जाता हैं।

BCCI भारत में क्रिकेट के Coach, Physiotherapist (फिजियोथेरेपिस्ट), और टीम के अन्य सदस्यों का चयन करती हैं।

खिलाड़ियों, कोच और फिजियोथेरेपिस्ट को बीसीसीआई के साथ एक निश्चित समय अवधि के लिए Contrect साइन करना होता हैं।

शुरुआत कहां से करें?

भारत के लिए क्रिकेट खेलने के दो मुख्य रास्ते हैं – पहला रास्ता स्कूल से शुरू होता हैं। स्कूल में क्रिकेट मैचों में प्रदर्शन के आधार पर खिलाड़ियों को इंटर-कॉलेज और इंटर-यूनिवर्सिटी मैचों में प्रवेश मिलता हैं।

इससे रणजी ट्राफी के लिए सलेक्शन होता हैं। इन मैचों में उत्कृष्ट प्रदर्शन के आधार पर इंटरनेशनल मैचों के लिए सलेक्शन किया जाता हैं। क्रिकेट एसोसिएशन के द्वारा आयोजित मैचों में Performance के आधार पर भी खिलाडी चुने जाते हैं।

जिला क्रिकेट एसोसिएशन का रोल:

भारत के हर जिले में District Cricket Association हैं। इनसे मिलकर राज्य क्रिकेट एसोसिएशन बनती हैं। District Association खिलाड़ियों के प्रदर्शन के आधार पर जिला स्तर के मैचों के लिए चयन करती हैं।

इनमें प्रदर्शन के आधार पर State Level की टीम चुनी जाती हैं। State Level के मैचों में प्रदर्शन के आधार पर राष्ट्रीय स्तर पर रणजी मैचों में खेलने को मौका मिलता हैं। इन मैचों में Performance के आधार पर अंतर्राष्ट्रीय टीम के लिए चयन होता हैं।

रणजी ट्रॉफी के लिए सलेक्शन:

कई District Cricket Associations को मिलकर एक डिवीज़न बनता हैं। डिवीज़न स्तर पर Selection के लिए District level पर Trial होता हैं। इंटर-डिवीज़नल टूर्नामेंट्स में Performance के आधार पर Camps के लिए चुनाव होता हैं।

Cricket Me Career Kaise Banaye?, cricketer kaise bane
Cricket Me Career Kaise Banaye?

इन Camps में चुने गए Players को प्रसिद्ध Cricket Coach द्वारा उत्कृष्ट क्रिकेट खेलने के लिए प्रशिक्षित किया जाता हैं। इन टूर्नामेंट्स में परफॉरमेंस से रणजी ट्रॉफी में सलेक्शन होता हैं।

खिलाड़ियों की श्रेणी:

बीसीसीआई ने सभी क्रिकेट खिलाड़ियों को भुगतान के आधार पर चार श्रेणियों A+, A, B और C में बांट रखा हैं। Players की रैंकिंग एक वर्ष के लिए मान्य होती हैं। प्लेयर वर्ष के बीच में Join करता हैं तो C केटेगरी में रखा जाता हैं।

रिटेनर फी (Retainer Fee):

यह फी खिलाड़ियों के Contract और Ranking के आधार पर तय होती हैं। A+ रैंकिंग वाले खिलाड़ियों का Retainer Fee सबसे अधिक सात करोड़ रूपये होता हैं जिसमें अनुभवी बल्लेबाज, गेंदबाज और विश्व स्तर के Records Holders होते हैं।

मैच का Fee क्या हैं?

यह Fee इंटरनेशनल मैच खेलने के लिए दी जाती हैं। टेस्ट मैच खेलने के लिए हर खिलाड़ी को प्रति मैच 15 लाख रूपये मिलते हैं। हर One Day International Match के लिए Fee 6 लाख रूपये हैं। T-20 मैच के लिए मैच फी 3 लाख रूपये होती हैं। अच्छा खिलाड़ी क्रिकेट के सभी Segments में Expert होना चाहिए।

At Last:

तो फ्रेंड्स मैं उम्मीद करता हूँ कि आपको ये पोस्ट (Cricket Me Career Kaise Banaye?) जरूर पसंद आयी होगी। इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें। और मन में कुछ सवाल हो तो नीचे कमेंट जरूर करें।

आप ये भी जरूर पढ़े:

Rakesh Verma

Rakesh Verma is a Blogger, Affiliate Marketer and passionate about Stock Photography.

Leave a Reply