ईलोन मस्क की मोटिवेशनल कहानी इन हिंदी – Best Story 2021

ईलोन मस्क की मोटिवेशनल कहानी इन हिंदी – Best Story 2021

दोस्तों आज में आपको एक ऐसी शख्शियत के बारे में बताने जा रहा हूँ जिन्हे आज के समय का सबसे जीनियस व्यक्ति कहे तो शायद गलत नहीं होगा और वो शख्श है Elon Musk ! जिनकी जिंदगी आज के समय में युवाओ के लिए काफी प्रेरणादायक और मार्गदर्शक रही है और आज इस मैं आपके लिए लेकर आया हूँ ईलोन मस्क की मोटिवेशनल कहानी इन हिंदी

दोस्तों! ईलोन मस्क को 21 वी सदी का सबसे सफल इंटरप्रेन्योर, बिजनेसमैन और क्रांतिकारी इंसान कहा जाता है। लोग इन्हे बिज़नेस टाइकून भी कहते है क्यूंकि इन्होने जो भी बिज़नेस शुरू किया उसे सफलता के शिखर पर जरूर पहुँचाया है। 

जो लोग इस दुनिया को बदलने के लिए कुछ भी असंभव कार्य को करना चाहते है उनके लिए ईलोन मस्क की मोटिवेशनल कहानी एक प्रेरणा है।

इसलिए अगर आप भी जानना चाहते है Elon Musk कौन है और उन्होंने ऐसा क्या किया है जिसकी वजह से दुनिया आज उन्हें एक जीनियस कहके बुलाती है तो इसके लिए आप इस ये ईलोन मस्क की कहानी जरूर पढ़े।

मै उम्मीद करता हूँ कि ईलोन मस्क की मोटिवेशनल कहानी आपको काफी ज्यादा प्रेरित करेगी। तो आईये विस्तार से पढ़ते है – ईलोन मस्क की मोटिवेशनल कहानी इन हिंदी

ईलोन मस्क की मोटिवेशनल कहानी

कौन है एलोन मस्क?

ईलोन रीव मस्क का जन्म 28 जून 1971 दक्षिणी अफ्रीका के प्रिटोरिया में हुआ था। इन्हे तीन देशो (अफ्रीका, कनाडा, अमेरिका) की नागरिकता प्राप्त है।

वह एक सफल सॉफ्टवेयर इंजीनियर, राकेट साइंटिस्ट, निवेशक और बिज़नेसमेन है। दिसंबर 2016 में उन्हें फ़ोर्ब्स पत्रिका द्वारा दुनिया के सबसे शक्तिशाली व्यक्तियों में 21 वा स्थान मिला।

इसके बाद वर्ष 2018 में फ़ोर्ब्स द्वारा उन्हें दुनिया का 53 वा सबसे अमीर शख्श माना गया। इसके साथ ही वर्ष 2021 में वे दुनियां के सबसे अमीर शख्श भी घोषित किये गए है।

वो राकेट बनाने वाली एक निजी कंपनी Space X के मालिक, टेस्ला मोटर्स के CEO और कई अन्य बड़ी कंपनियों के संस्थापक भी है। 

ईलोन मस्क का प्रारंभिक जीवन-

ईलोन मस्क अपने परिवार के तीन बच्चो में सबसे बड़े थे। उनके पिता का नाम एरोल (Errol) मस्क है जो की पेशे से एक इंजीनियर थे। वो मूलतः ब्रिटिश नागरिक थे जो दक्षिणी अफ्रीका में रहते थे।

ईलोन मस्क का शुरुआती बचपन दक्षिणी अफ्रीका में ही बिता। जब ईलोन 9 वर्ष के थे तब इनके माता पिता का तलाक हो गया और तब एलोन अपने पिता के साथ ही रहने लगे।   

इनकी स्कूली शिक्षा वाटरक्लूफ़ हाउस, प्रिपरेटरी में पूरी हुई और इसके बाद प्रिटोरिया के बॉयज स्कूल से डिग्री प्राप्त की। ईलोन मस्क को बचपन से ही किताबे पढ़ने का शौक रहा है।

इसलिए जब वो 9 साल के हुए तो उन्हें पहला कंप्यूटर मिला। जिसके बाद उन्होंने किताबो को पढ़ते हुए प्रोग्रामिंग सीखकर उन्होंने एक कंप्यूटर गेम (ब्लास्टर) बना डाला जिसे बेचकर उन्होंने 500 डॉलर कमाए। तब उन्होंने अपनी स्कूल की फीस भी इन्ही पैसे से भरी।  

उन दिनों स्कूल के कुछ बच्चे इनके साथ मारपीट करते थे। एक बार कुछ बच्चो ने ईलोन के साथ इतनी मारपीट कर दी कि इससे वो बेहोश हो गए।

और उन्हें उसी हालत में उन लड़को ने सीढ़ियों से नीचे फेक दिया। इस घटना के बाद से अब तक ईलोन को आज भी सांस लेने में तकलीफ होती है। 

17 वर्ष की उम्र में अपनी हाई स्कूल की पढ़ाई पूरी करने के बाद वे कनाडा जाकर अपनी माँ के साथ रहने लगे और उन्हें वही (कनाडा) की नागरिकता मिल गयी। 

इसके बाद उन्होंने पेंसिल्वेनिया यूनिवर्सिटी से फिज़िक्स में बैचलर डिग्री और वार्डन स्कूल ऑफ़ बिज़नेस से इकोनॉमिक्स में डिग्री प्राप्त की।

उस समय उन्होंने अपने पैसो की कमी को दूर करने के लिए कई छोटी- मोटी नोकरिया की। यहाँ तक की उन्होंने नाले साफ़ करने का भी काम किया। 

आप इसे भी पढ़े:

ईलोन मस्क की बिज़नेस यात्रा –

दोस्तों ईलोन मस्क ने अपनी लाइफ में जिस भी काम में हाथ में आजमाया उसे उन्होंने सफलता के मुकाम तक जरूर पहुंचाया है। आईये अब जानते है ईलोन मस्क के कौन कौनसे सफलतम बिज़नेस रहे हैं –

Zip 2:

ईलोन जब आगे की पढ़ाई करने के लिए अमेरिका गए तब उन्होंने स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में Phd में दाखिला लिया परन्तु उसके थोड़े दिनों बाद ही उन्हें इंटरनेट के बारे में जानकारी मिली और उन्हें इंटरनेट की ताकत का अहसास हो गया।

और यही से ईलोन मस्क की बिज़नेस यात्रा शुरू हुई। इसके दो दिनों बाद ही ईलोन मस्क ने Phd से ड्रॉपआउट ले लिया और अपना सारा ध्यान सिर्फ इंटरनेट पर ही केंद्रित कर दिया।

इसके बाद उन्होंने अपने भाई के साथ मिलकर एक ऑनलाइन सॉफ्टवेयर कंपनी Zip 2 बनायीं।

यह एक ऑनलाइन न्यूज़पेपर पब्लिशर्स के लिए सिटी गाइड का काम करती थी जिसे बाद में उन्होंने अपने भाई के साथ मिलकर 307 मिलियन डॉलर में एक जानी मानी कंप्यूटर कंपनी Compaq को बेच दिया। 

Paypal:

Zip 2 के इस सौदे में ईलोन मस्क को $22 मिलियन मिले। फिर इन पैसो से ईलोन ने एक नयी कंपनी x.com बनायीं जो कि एक ऑनलाइन पेमेंट वेबसाइट थी और बाद में जिसका नाम बदलकर Paypal रखा गया।

यह वेबसाइट दुनिया की पहली ऐसी ऑनलाइन पेमेंट वेबसाइट थी जिसकी मदद से कोई भी आसानी से घर बैठे किसी को भी पैसा ट्रांसफर कर सकता था। एलोन मस्क ने इस वेबसाइट के द्वारा ऑनलाइन पेमेंट के क्षेत्र में एक क्रांति ला दी थी।  

आप ये भी पढ़े :

SpaceX:

2002 में Paypal को ebay.com ने $1.5 बिलियन में खरीद लिया और इस सौदे से एलोन मस्क को $165 मिलियन प्राप्त हुए।

इसके बाद उन्होंने उस राशि को कई कंपनियों में इन्वेस्ट कर दिया। वास्तव में यह एक बहुत बड़ी धनराशि थी परन्तु एलोन इससे संतुस्ट नहीं थे।

अब तो इस जीनियस के दिमाग में कुछ और ही चल रहा था। अब उनका सपना मानव को मंगल ग्रह पे ले जाकर वहां इंसानी बस्ती बसाना था। 

हालाँकि एलोन मस्क को राकेट साइंस का ज्ञान नहीं था परन्तु इसके लिए उन्होंने खुद ही किताबो को पढ़ना शुरू कर दिया और अपनी लगन और मेहनत के दम पर उन्होंने कुछ ही समय में अपनी तीसरी कंपनी SpaceX (Space Exploration Technologies Corporation) लांच कर दी। 

और तब लोगो ने उन्हें एक सनकी और पागल इंसान कहना शुरू कर दिया था। हालाँकि मंगल ग्रह पर इंसानी बस्ती बसाने की उनकी इस परियोजना पर काफी ज्यादा भारी लागत होनी थी।

ईलोन मस्क की मोटिवेशनल कहानी इन हिंदी
ईलोन मस्क की मोटिवेशनल कहानी इन हिंदी : Image Source: Wikimedia

इसलिए उन्होंने इसके लिए commercial rocket के द्वारा विदेशी उपग्रहों को स्पेस में लांच करने की योजना बनायीं। परन्तु अब भी एक अच्छा और सस्ता राकेट उनके सामने एक समस्या ही थी।  

इसके लिए उन्होंने रूस जाकर रशियन फेडेरेशन के साथ बात की परन्तु वहा बात नहीं बन पायी क्यूंकि उनकी राकेट कीमत एलोन मस्क की उम्मीद से काफी ज्यादा थी।

फिर वहां से वापस आते समय रास्ते में ही उन्होंने खुद के राकेट बनाने को लेकर कैलकुलेशन करनी शुरू कर दी और तब उन्होंने ये अंदाज़ा लगा लिया था कि यदि वो खुद का ही राकेट बनाकर यूज़ करे तो उस पर काफी कम खर्चा आएगा। 

इसके लिए उन्हें ऐसा Reusable Rocket बनाना था जो दुनिया के बाकि राकेट से अलग हो क्यूंकि ये राकेट अंतरिक्ष में जाकर धरती पर वापस आ सके और जिसे बार बार यूज़ किया जा सके। 

Space X के शुरूआत के तीन राकेट लगातार एक के बाद टेस्टिंग में फेल होते गए। उससे एलोन को काफी ज्यादा नुकसान उठाना पड़ा ओर वो कंगाली के कगार पर आ पहुंचे। परन्तु शायद एलोन तो किसी और ही मिटटी के बने थे।

लगातार तीन बड़ी असफलताओं को झेलने के बावजूद उन्होंने हिम्मत नहीं हारी और अगली बार 28 सितम्बर 2008 पिछली गलतियों में सुधार करते हुए उन्होंने चौथा राकेट (falcon 1) परिक्षण किया जो कि इस बार बिलकुल सफल रहा। 

इसके बाद उन्होने जमीन और समुद्र पर बने लांचपेड से भी इन राकेट का परिक्षण सफलतापूर्वक किया। उनका ये चौथा राकेट परिक्षण ही Space X को अस्तित्व में लाया। अगर उनका ये परिक्षण भी फेल हो जाता तो Space X कभी अस्तित्व में नहीं आ पाता। 

Space X की इस सफलता ने ही एलोन मस्क को दुनिया में एक राकेट साइंटिस्ट और एक जीनियस का ख़िताब दिया।

उनके इस सफल परिक्षण के बाद नासा ने Space X के साथ कई बड़े कॉन्ट्रैक्ट साइन किये और अब तो Space X कम कीमत में नासा के equipment, cargo और satellites को ऑर्बिट में पहुँचाती है। 

आज के समय में Space X दुनिया की पहली ऐसी प्राइवेट स्पेस एजेंसी है जिसके पास सबसे एडवांस राकेट प्रणाली है और जो कम कीमत पर अन्य देशो के सैटेलाइट्स को अंतरिक्ष में लांच करती है।

इसके अलावा इसके रॉकेट्स reusable भी है जिन्हे बार बार उपयोग में लाया जा सकता है। इसी तकनीक के कारण Space X आज के समय नासा और इसरो जैसी बड़ी स्पेस एजेंसियों को कड़ी टक्कर दे रही है। 

आप ये भी पढ़े :

Tesla Motors:

हालाँकि ईलोन मस्क टेस्ला मोटर्स से संस्थापक नहीं थे परन्तु वो जानते थे की आने वाला समय इलेक्ट्रिक कारों का है।

इसलिए उन्होंने 2004 में टेस्ला मोटर्स में $70 मिलियन का निवेश करके इसमें अपनी नयी पारी की शुरुआत की। इसके कुछ समय बाद उन्हें बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर का चेयरमैंन बनाया गया। 

Elon Musk ने अपनी पहली इलेक्ट्रिक कार को डिजाइन करने में एहम योगदान दिया , जो ब्रिटिश लोटस एलिस पर आधारित टेस्ला रोडस्टर स्पोर्ट कार थी। 

Solar City:

सोलर सिटी अमेरिका की दूसरी सबसे बड़ी प्राइवेट सोलर पावर जेनरेट करने वाली कंपनी है। एलोन मस्क का मानना है कि आने वाले समय में सोलर एनर्जी ही सबसे ज्यादा डिमांड में रहने वाली है।

क्यूंकि ये एनर्जी इकोफ्रैंडली तो है ही साथ ही ये अनंतकाल काल तक मिलने वाली ऊर्जा भी है। 

Hyperloop Train:

Hyperloop train एलोन मस्क की एक महत्वकांक्षी परियोजना है जिसके द्वारा धरातल पर सबसे तेज परिवहन की सुविधा उपलब्ध हो सकेगी।

इसके अंतर्गत यात्री एक कैप्सूल नुमा वेक्यूम ट्यूब में अपनी सीट पर बैठकर 1000 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ़्तार से यात्रा कर सकेंगे। 

अभी इस परियोजना पर शीघ्रता से कार्य किया जा रहा है जिसे निकट भविष्य में हम सब साकार होते देख सकेंगे।  

अंत में:
तो दोस्तों ये थी एलोन मस्क की सक्सेसफुल बिज़नेस लाइफ जो कि अभी भी लगातार जारी है। आपने देखा कि कैसे एलोन मस्क एक कंप्यूटर इंजीनियर से राकेट साइंटिस्ट बन पाए।

इसके अलावा उन्होने लगातार कई बार असफल होने के बावजूद कैसे अपने आप को मोटीवेट किया और सफलता प्राप्त की।

दोस्तों एलोन मस्क इस धरती पर एक ऐसे इंसान है जो कभी भी सिर्फ अपने लिए नहीं जिए बल्कि उनका सपना और काम हमेशा दुनिया बदलने पर ही केंद्रित रहे है। 

उनके ये कार्य अभी भी अनवरत जारी है। एलोन मस्क एक ऐसे जिद्दी इंसान है जो अगर एक बार किसी काम को करने की ठान लेते है तो फिर उसे किसी भी कीमत पर पूरा करके ही दम लेते है।

वो कभी हार मानने वालो में से नहीं है। इसलिए आज के समय में एलोन मस्क युवाओ के लिए एक बहुत बड़े प्रेरणा स्रोत और मार्गदर्शक है। 

तो दोस्तों उम्मीद करता हूँ कि आपको ईलोन मस्क की मोटिवेशनल कहानी पसंद आयी होगी और इससे आपको कुछ सिखने को भी मिला होगा।

यदि ये आर्टिकल आपको अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों शेयर जरूर करे और इसी तरह के आर्टिकल्स का नोटिफिकेशन सबसे पहले पाने के लिए आप हमारे इस ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करे। 

धन्यवाद।

आप इसे भी पढ़े:

Rakesh Verma

Rakesh Verma is a Blogger, Affiliate Marketer and passionate about Stock Photography.

This Post Has 2 Comments

Leave a Reply