You are currently viewing Humesha Tension Free Kaise Rahe – 9 Best Tips
tension free kaise rahe

Humesha Tension Free Kaise Rahe – 9 Best Tips

लाइफ में Tension Free Kaise Rahe और chinta dur karne ke upay क्या हैं? दोस्तों! इस भागदौड़ भरी जिंदगी में कोई भी इंसान ऐसा नहीं हैं जो तनाव में न रहता हो या जिसे किसी भी प्रकार की कोई Tension न हो। सबके साथ कोई न कोई Problem तो होती ही हैं और जीवन में एक के बाद एक समस्याएँ आती रहती हैं।

अब सब लोग तो एक जैसे नहीं होते। इसलिए कुछ तो छोटी मोटी बात में टेंशन लेकर बैठ जाते हैं तो वहीं कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो बड़ी से बड़ी टेंशन होने पर भी एक दम बिंदास होकर जीवन जीते हैं।

तो क्या टेंशन को जड़ से खत्म किया जा सकता हैं। तो जवाब होगा… शायद नहीं!

लेकिन फिर भी क्या कोई उपाय हैं जिससे हम अपना मानसिक तनाव कम कर सकें और tension free life जी सकें?

जी हां, बिल्कुल हैं! इसके लिए आप ये लेख पूरा जरूर पढ़े, ताकि आप भी जान सकें कि लाइफ में tension free kaise rahe और chinta dur karne ke upay क्या हैं?

तो आईये जानते हैं Tension dur karne ke upay in Hindi

Tension Free Kaise Rahe?

1. ज्यादा न सोचे:

दोस्तों टेंशन की शुरुआत हमारे सोचने से ही शुरू होती हैं क्यूंकि एक हमारी सोच ही हैं जो किसी बड़े काम को आसान और छोटे से काम को भी पहाड़ जैसा बना देती हैं।

कभी कभी हमारे साथ कुछ ऐसी बातें हो जाती हैं जिसके बारे में हम लगातार सोचते रहते हैं और ऐसे में कभी कभी बुरे खयाल भी आने लगते हैं।

आपने देखा होगा कि हम जो सोचते हैं अक्सर वैसा होता नहीं हैं। इसलिए हमें ये समझना होगा कि कुछ चीजें ऐसी होती हैं जिनपे हमारा कोई बस नहीं चलता या जिन्हें हम अपने अनुसार control नहीं कर सकते।

इसके साथ ही हमें कुछ ऐसी घटनाएं भी भुलानी होगी जो पहले हमारे साथ हो चुकी हैं क्यूंकि ऐसी बातें हमें टेंशन भी खूब देती हैं।

अगर सोचना ही हैं तो उस काम के बारे में सोचिये जो काम अभी आप कर रहे हो या करने वाले हो। जितना हम कम सोचेंगे उतना ही हमारा दिमाग Active और Focused रहेगा और कभी भी बुरे ख्याल हमें परेशान नहीं करेंगे।

2. परिणाम की चिंता न करें:

दोस्तों! श्रीमद्भगवदगीता में कहा गया हैं कि “कर्म करो फल की चिंता मत करो” लेकिन आजकल इसका उल्टा होने लगा हैं। लोग अब परिणाम ही चिंता पहले करते हैं और काम की शुरुआत बात में।

कुछ तो इतने Advance होते हैं कि वे काम की शुरुआत करने से पहले ही मन ही मन में सब कुछ करके देख लेते हैं और कुछ ही समय बाद उनको लगने लगता हैं कि यार ये काम तो अच्छा नहीं हैं। इसमें तो ये दिक्क्त हैं वो दिक्क्त हैं। चलो छोड़ो इसे कुछ ओर try करते हैं।

इस प्रकार लगातार उनके मन में नए नए प्लान बनते और बिगड़ते रहते हैं और उसके बाद फिर से परेशान होकर बैठ जाते हैं क्यूंकि उन्होंने काम की शुरुआत तो की ही नहीं बस सोचा ही सोचा हैं।

3. Comfort Zone में रहने की आदत बदले:

दोस्तों! कम्फर्ट जोन में रहने की आदत हमें एक ही दायरे में रहने को मजबूर कर देती हैं। ये हमारे काम की क्षमता एवं skill को और निखरने से रोकती हैं। नयी चुनौतियों और नये सुअवसर को हम तक पहुँचने से भी रोकती हैं।

ऐसे में हम परेशान होते रहते हैं कि कहीं हमारा ये Comfort Zone जॉन या आराम पसंद काम हमसे न छिन जाये। नहीं तो हम क्या करेंगे, कहां जायेंगे इत्यादि।

इसलिए मेरे दोस्त! अगर आपके साथ ही ऐसा ही हैं तो आप अपने उस कम्फर्ट जॉन से जितना जल्दी बाहर निकल सकें निकल ले क्यूंकि वक़्त का कोई भरोसा नहीं कि कब हालात बदल जाये।

4. भरपूर नींद ले:

दोस्तों! चिंता मुक्त होने के लिए नींद सबसे कारगर उपाय हैं क्यूंकि भरपूर नींद लेने से हमारे दिमाग को आराम मिलता हैं और जो फालतू की और तनावभरी बातें हमारे दिमाग में चलती रहती हैं वो सब दूर हो जाती हैं।

इसके बाद जब भी हम नींद से जागते हैं तो हम पहले से ज्यादा तरोताजा महसूस करते हैं और कुछ पोज़िटिव खयाल भी दिमाग में आते हैं। इसके साथ ही जिस बात को लेकर पहले हम परेशान हो रहे थे। अब उसका समाधान भी हमें मिल जाता हैं।

5. आत्मनिर्भर बने:

दोस्तों! आत्मनिर्भर बनने से आप किसी भी काम के लिए दूसरों पर depand नहीं रहते। आप हर वो काम खुद से करना जानते हो जिसके लिए आप दूसरों से मिन्नतें करते हो।

इससे आपको कई फायदे होते हैं जैसे – आपको पता होता हैं कि काम कब और कैसा होगा, उसका रिजल्ट कैसा होगा। इससे आपको बजट की भी चिंता नहीं रहेगी।

6. अपने सभी काम तय समय से करें:

जब भी हमारे कुछ काम अधूरे पड़े रहते हैं तो हमें उनकी चिंता लगी रहती हैं कि यार अभी तो ये काम बाकी, अभी वो काम बाकी हैं। आखिर कब और कैसे पूरे होंगे ये काम, मैं कब फ्री हो पाउँगा आदि।

तो इस तरह की टेंशन से बचने का बस एक ही उपाय हैं कि अपने सभी काम समय पर पूरे करने की कोशिश करें।

7. ताजा हवा में टहले:

जब भी कभी ज्यादा तनाव हो तो थोड़ा बाहर निकले और ताजा हवा में टहले। इसके साथ ही समय मिलने पर आप ऐसी जगह भी जरूर जाये जहाँ प्राकृतिक रूप से हरियाली हो।

हरियाली देखकर तनाव जरूर कम होता हैं ऐसा मेरा मानना हैं। अक्सर ऐसा मैं खुद भी करता हूँ और इससे मुझे काफी आराम मिलता हैं।

8. परिवार व दोस्तों के साथ समय बिताये:

मनुष्य एक सामाजिक प्राणी हैं। इसलिए वो अपनी हर एक बात दूसरों से शेयर कर सकता हैं। और जब कोई टेंशन वाली बात हो तो उस समय हमें अपने परिवार व दोस्तों के साथ जरूर शेयर करनी चाहिए। क्यूंकि ये हमारी भावना को अच्छे से समझ सकते हैं। इसके साथ ही ये हमें प्रॉब्लम से बाहर निकलने के सही उपाय भी बताते हैं।

>> नए दोस्त कैसे बनाये – 7 Best Ideas

9. लोग क्या कहेंगे, इसकी परवाह न करें:

कभी-कभी हम कोई ऐसा नया काम करना चाहते हैं जो दूसरों से हटकर हो या दूसरों के लिए असंभव हो। तो ऐसे में अक्सर दूसरे लोग हमारी मजाक बनाते हैं और हमें Demotivate करने लगते हैं। ऐसे लोग कभी खुद से तो ऐसा काम नहीं कर पाए और अब वो दूसरों को भी उस काम को नहीं करने देना चाहते।

तो मतलब साफ हैं कि वो हमेशा ही और आपको आगे बढ़ने से रोकेंगे और वो आपकी तरक्की से कभी खुश भी नहीं होंगे। तो दोस्त! आप ऐसे लोगों की परवाह ही क्यों करते हो और क्यों इन लोगों की बात पे ध्यान देते हो।

ये आपको हमेशा टेंशन ही देते रहेंगे। अतः इन्हें इग्नोर करने में ही आपकी भलाई हैं।

>>Society में अपनी value कैसे बनाये -7 Best Tips

और आखिर में,

अगर आपको ये पोस्ट (Tension Free Kaise Rahe) पसंद आयी हो तो इसे अपने दोस्तों एवं परिवारजनों के साथ शेयर जरूर करें। यदि कोई सवाल या सुझाव देना चाहे तो नीचे कमेंट जरूर करें।

आप ये भी जरूर पढ़े:

Rakesh Verma

Rakesh Verma is a Blogger, Affiliate Marketer and passionate about Stock Photography.

Leave a Reply