Ekta Me Bal Story in Hindi – Best Child Story 2021

Ekta Me Bal Story in Hindi – Best Child Story 2021

Ekta Me Bal Story in Hindi (कबूतर की कहानी)

एक समय की बात हैं। कबूतरों का एक झुण्ड भोजन की तलाश में उड़ता हुआ जा रहा था। इसी दौरान जब वो एक जंगल के ऊपर गुजरा नीचे उन्हें बहुत सारे दाने बिखरे हुए दिखाई दिये।

फिर क्या था सभी कबूतर नीचे आये और दाना चुगने लगे। उस जगह पर शिकारी ने जाल भी लगाया हुआ था जो कबूतरों को दिखाई नहीं दिया। जब दाने खत्म होने लगे तो कबूतर शिकारी के जाल में फंसने लगे।

अब वो जाल से छूटने की जितनी कोशिश करते उतना ही ज्यादा जाल में फंसते जाते। धीरे धीरे सभी कबूतर शिकारी के जाल में फंस गए।

ये देखकर कबूतर बेहद घबरा गए और इस मुसीबत से आजाद होने का उपाय सोचने लगे। तभी उनमे से एक बूढ़ा कबूतर बोला – देखो अब जो हो गया सो हो गया। अब ज़रा मेरी बात ध्यान से सुनो। इस जाल यहाँ हमें कोइ आज़ाद नही करा सकता।

लेकिन एक उपाय हैं अगर हम सब मिलकर कोशिश करेंगे तो सब आज़ाद हो सकते हैं। इस जाल को हमें अपने साथ ही लेकर उड़ना होगा और एक सुरक्षित जगह पहुँचना होगा। आओ अब सब मिलकर इस जाल को ले उड़ते हैं।

बूढ़े कबूतर की बात से सभी सहमत हो जाते हैं फिर सबने मिलकर एक साथ उड़ने की कोशिश की। और देखते ही देखते वो सब जाल के साथ ऊँचे आसमान में उड़ने लगे।

काफी देर तक उड़ने के बाद वो एक खेत में पहुंचे। तभी उस बूढ़े कबूतर ने अपने पुराने दोस्त चूहे को आवाज़ देकर बुलाया। चूहा अपने मित्र की आवाज़ सुनकर फौरन उसी जगह आया तो वहां का नज़ारा देखकर सारी बात समझ गया।

बस फिर क्या था चूहे ने अपने पैने दांतों से जाल को काटना शुरू कर दिया। इस प्रकार थोड़ी ही देर में उसने सबको जाल से मुक्त करा लिया। आज़ाद होने के बाद सब कबूतरों ने बूढ़े कबूतर और चूहे का धन्यवाद किया।

इस कहानी से शिक्षा : संघठन में शक्ति होती हैं।

और आखिर में,

प्यारे दोस्तों! आपको ये कहानी (Ekta Me Bal Story in Hindi) कैसी लगी और आप इस ब्लॉग पे किस तरह की कहानियां पढ़ना चाहते हो। अपना जवाब हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताये। इसी तरह की और भी अन्य कहानियों का जानकारी सबसे पहले पाने के लिए आप नोटिफिकेशन allow जरूर करें।

आप जरूर पढ़े:

Rakesh Verma

Rakesh Verma is a Blogger, Affiliate Marketer and passionate about Stock Photography.

Leave a Reply