You are currently viewing Prashant Mahasagar in Hindi | प्रशांत महासागर का रहस्य 2022

Prashant Mahasagar in Hindi | प्रशांत महासागर का रहस्य 2022

Prashant Mahasagar in Hindi | प्रशांत महासागर की जानकारी

प्रशांत महासागर विश्व का सबसे बड़ा महासागर है जो सम्पूर्ण पृथ्वी के एक तिहाई भाग पर फैला हुआ हैं। इसका क्षेत्रफल 165,246,200 वर्ग किलोमीटर हैं जो पृथ्वी के सभी स्थलों के सयुंक्त क्षेत्रफल से भी अधिक है और अटलांटिक महासागर के दुगुने से भी अधिक हैं।

इसकी औसत गहराई लगभग 14000 फुट हैं तथा अधिकतम गहराई (मरियानाट्रेंच में चैलेंजर डीप की) समुद्रतल से लगभग 36,070 फुट नीचे हैं। इसका धरातल लगभग समतल हैं एवं इसकी आकृति अर्धवृत्ताकार आकार की हैं।

प्रशांत महासागर की सीमा 55 देशों के साथ लगती हैं जिनमें रूस, अमेरिका, कनाडा, जापान, ऑस्ट्रेलिया और चीन जैसे देश शामिल हैं। यह अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और एशिया महाद्वीप को एक दूसरे से अलग करता हैं। भूमध्य रेखा इसके लगभग बीचोबीच से होकर गुजरती हैं।

प्रशांत महासागर के पूर्वी और पश्चिमी दोनों किनारों में भौगोलिक अंतर स्पष्ट रूप से देखने को मिलता हैं। इसके पूर्वी किनारों पर पर्वत श्रंखलाएं (रॉकी और एंडीज) देखने को मिलती हैं तो वहीं पश्चिमी किनारों पर डेल्टाई क्षेत्र देखने को मिलता हैं जो कि बड़ी बड़ी नदियों के मिलने से बना हैं।

इस महासागर में 20,000 द्वीप हैं। कुछ द्वीप धंसे हुए हैं (जैसे-एल्यूशिनयन), तो कुछ द्वीप चाप के रूप में (जैसे- न्यूज़ीलैण्ड, इंडोनेशिया, जापान आदि) समुद्र में कुछ द्वीप बिंदु के रूप में बिखरे हुए हैं, जैसे- कुक द्वीप, सोसाइटी द्वीप, पोलिनेशियाई द्वीप आदि।

दक्षिण-पश्चिम के द्वीपों को निम्नलिखित तीन समूहों में विभाजित किया जाता है:

  1. मेलानिशिया (Melanesia): सोलोमन द्वीप, फिजी द्वीप, न्यू एलिस एवं अन्य द्वीप।
  2. माइक्रोनेशिया (Micronesia): कैरोलाइन्स, मार्शल, गिल्बर्ट एलिस एवं अन्य द्वीप।
  3. पोलीनेशिया (Polynesia): लाइन, कुक, सोसाइटी, टुआभाटो आदि।

महाद्वीपीय मग्न ढाल- प्रशांत महासागर का पश्चिमी मग्न ढाल पूर्वी मग्न ढाल की अपेक्षा अधिक चौड़ा है। पश्चिमी मग्न ढाल पर जापान सागर, पीला सागर आदि स्थित हैं। ऑस्ट्रेलिया के पूर्वी तट पर भी मग्न ढाल अधिक चौड़ा हैं।

Prashant Mahasagar in Hindi, प्रशांत महासागर
Prashant Mahasagar in Hindi

सीमांत सागर (Marginal Seas)- बेरिंग सागर, ओखोटस्क सागर, जापान सागर, पीला सागर, स. चीन सागर, जावा सागर, सुलु सागर, बांदा सागर आदि प्रशांत महासागर के प्रमुख सीमांत सागर या आंशिक रूप से घिरे हुए सागर हैं।

कटक- इस महासागर का सबसे महत्वपपूर्ण कटक पूर्वी प्रशांत कटक या ऐल्बैट्रॉस पठार (Albatros Plateau) है। अन्य महत्वपूर्ण कटक- (i) गालापगॉस कटक, जिसकी दो शाखाएं हैं: कारनीज एवं कोकोस (ii) नूज़ीलैण्ड कटक, (iii) हवाई कटक, (iv) नास्का कटक, तथा (v) कैरोलीन-सोलोमन कटक आदि।

प्रशांत महासागर में अटलांटिक एवं हिन्द महासागर के समान कटक महासागर के मध्य में नहीं पाये जाते हैं।

इस लेख में आपने प्रशांत महासागर के बारे में जानकारी प्राप्त की है। उम्मीद हैं आपको ये जानकारी जरूर पसंद आई होगी। अगर आपको ये (Prashant Mahasagar in Hindi) लेख पसंद आया हो तो इसे शेयर जरूर करें।

आप ये भी जरूर पढ़े:

Rakesh Verma

Rakesh Verma is a Blogger, Affiliate Marketer and passionate about Stock Photography.

Leave a Reply