You are currently viewing आईएएस बनने के लिए योग्यता | IAS ऑफिसर कैसे बनें – Best Guide 2021

आईएएस बनने के लिए योग्यता | IAS ऑफिसर कैसे बनें – Best Guide 2021

इस आर्टिकल में आप जानेंगे कि एक IAS ऑफिसर कैसे बनें और IAS बनने के लिए क्या करें? इसके लिए आपके पास क्या योग्यता होनी चाहिए?

दोस्तों, IAS यानि Indian Administrative Service भारत की सबसे प्रतिष्ठित सेवा मानी जाती है और जिसके लिए UPSC (संघ लोक सेवा आयोग) हर साल परीक्षा आयोजित करता है।

वैसे तो संघ लोक सेवा आयोग 24 प्रकार की परीक्षाओं का आयोजन करता है जैसे IAS, IRS, IPS, IFS, NDA, CDS आदि, परन्तु उनमे से IAS परीक्षा सबसे महत्वपूर्ण मानी गयी है जिसके द्वारा देश के महत्वपूर्ण प्रशासनिक पदों पर नियुक्ति की जाती है जिनमे ADM, DM, DC, Ministerial Secretary आदि प्रमुख प्रशासनिक पद होते है।

तो आईये अब विस्तार से जानते है कि आप एक IAS ऑफिसर कैसे बनेंगे और इसके लिए आपमें क्या योग्यता होनी चाहिए –

आप एक IAS ऑफिसर कैसे बनेंगे, आईएएस बनने के लिए योग्यता-

जिस तरह किसी भी नौकरी/ पद को पाने के लिए निर्धारित योग्यता और एक परीक्षा से गुजरना अनिवार्य होता है ठीक उसी तरह एक आई ए एस बनने के लिए भी आपको उस प्रोसेस से गुजरना होता है।

अतः यहाँ हम इसकी पूरी प्रक्रिया के बारे में चर्चा करेंगे। तो आईये जानते है। 

1. IAS के लिए नागरिकता:

इसके लिए आपको एक भारतीय नागरिक (Indian Citizen) होना जरुरी है। इसके अलावा नेपाल और भूटान के नागरिक भी इस परीक्षा को दे सकते है। तिब्बती शरणार्थी जो 1 जनवरी 1962 से पहले भारत आकर बस गए हो।

इसके अलावा वो व्यक्ति जो “इथियोपिया, मलावी, केन्या, म्यांमार, श्रीलंका, पाकिस्तान, तंजानिया, युगांडा, जायरे, वियतनाम या ज़ाम्बिया” से आकर भारत में स्थायी रूप से बस चुके है और भारत की नागरिकता ले चुके है वो भी इसके लिए आवेदन कर सकते है। 

2. आयु सीमा (IAS के लिए उम्र):

General Category के लिए उम्र सीमा 21 से 32 वर्ष है। इस कैटेगरी के परीक्षार्थी इसके लिए 6 बार इस परीक्षा में बैठ सकते है।

SC/ST उम्मीदवार के लिए उम्र सीमा 21 से 37 साल है। ये अपनी आयु सीमा में कितनी बार भी इस एग्जाम को दे सकते है। इसके लिए कोई Attempt निर्धारित नहीं है। 

OBC उम्मीदवार के लिए उम्र सीमा 21 से 35 वर्ष निर्धारित की गयी है जिसके दौरान ये उम्मीदवार अधिकतम 9 बार इस परीक्षा में बैठ सकते है। 

Physical Disable वाले उम्मीदवार के लिए आयु सीमा 21 से 42 साल निर्धारित की गयी है जिसके दौरान जनरल और OBC उम्मीदवार अधिकतम 9 बार इस परीक्षा को दे सकता है।

SC/ST उम्मीदवार के लिए ऐसी कोई लिमिट नहीं है। वे चाहे जितनी बार इस एग्ज़ाम को दे सकते है। 

जम्मू कश्मीर अधिवास के नागरिको जिनमे जनरल केटेगरी के लिए अधिकतम 37 वर्ष, OBC के लिए 40, SC/ST के लिए 42 और Physical Handicaped के लिए 50 वर्ष आयु सीमा निर्धारित है। 

Disable Serviceman और Disable from Duty Candidate के लिए आयु सीमा 37 वर्ष(जनरल), 38(OBC), 40 (SC/ST) निर्धारित है।  

3. IAS के लिए शैक्षणिक योग्यता:

आपको किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय (University) से किसी भी Stream में Graduate होना जरुरी है। अगर आप अभी अपनी Batchler Digree के अंतिम वर्ष में है तब भी आप इस परीक्षा के लिए Apply कर सकते है।  

परीक्षा के लिए अप्लाई करने के लिए ग्रेजुएशन में प्राप्तांको का कोई निर्धारित मानदंड नहीं है। 

मतलब चाहे आप ग्रेजुएशन में कितने भी अंको से पास हुए हो, फिर चाहे आप थर्ड डिवीज़न में पास क्यों न हुए हो आप फिर भी इस एग्जाम के लिए अप्लाई कर सकते है

क्योंकि आपकी योग्यता को परखने के लिए यू पी एस सी आपको एक कठिन एग्जाम से गुजारता है जिससे वो आपके अंदर छुपा हुआ एक IAS पहचान लेता है।

4. सिविल सर्विस एग्जाम के लिए अप्लाई करे:

यू पी एस सी द्वारा हर साल Civil Services के लिए परीक्षाएं आयोजित की जाती है जिसके लिए हर साल जनवरी से अप्रैल के बीच Online Application प्रक्रिया शुरू की जाती है। 

इसलिए अगर आप भी इस एग्जाम में बैठने की योग्यता रखते है तो आपको भी इसके लिए अप्लाई जरूर करना चाहिए।

ऑनलाइन अप्लाई करने के बाद परीक्षा के 3 चरण से होकर गुजरना होगा जिसमे सबसे पहले Pre Exam उसके बाद Main Exam और अंत में Interview पास करना होगा।  

5. Pre Exam क्लियर करें:

प्री एग्जाम में दो Compulsory objective टाइप पेपर होते है। इनमे प्रत्येक प्रश्न पत्र 200 नंबर का होता है।

इस प्री एग्जाम के प्राप्तांक फाइनल रैंकिंग में गिने नहीं जाते है बल्कि मुख्य एग्जाम के लिए ही प्री एग्जाम को क्लियर करना पड़ता है। 

6. Main Exam क्लियर करे:

Pre Exam क्लियर कर लेने के बाद अब आपको Main Exam क्लियर करना होगा। इस एग्जाम में कुल 9 written पेपर देने होते है जिनमे से 7 पेपर के प्राप्तांक ही आपके फाइनल स्कोर में गिने जाते है।

ये परीक्षा कुल 1750 नंबरों की होती है जिनमे-
पेपर 1 –  निबंध 250 नंबर
पेपर 2-5 – सामान्य अध्ययन 250 x 4 = 1000 
पेपर 6,7 – ऐच्छिक विषय (Optional Subject) 250 x 2= 500
पेपर 8 – Indian Language (भारतीय सविधान की 8 वी अनुसूची में दी गयी कोई भी एक भारतीय भाषा) 300 नंबर 
पेपर 9 – अंग्रेजी भाषा 300 नंबर होते है। 

इनमें से आपको अंतिम दो पेपर यानि Indian Language और अंग्रेजी प्रश्न पत्र केवल पास ही करने होते है इनके प्राप्तांक फाइनल रैंकिंग में गिने नहीं जाते है।

अतः आपको इस मुख्य परीक्षा में ज्यादा से ज्यादा अंक प्राप्त करने के लिए खूब मेहनत से पढ़ाई करनी होगी। 

7. Interview क्वालीफाई करें: 

मैन एग्जाम को क्लियर करने पर ही आप इंटरव्यू के लिए क्वालीफाई हो पाएंगे। ये पर्सनेल इंटरव्यू 250 अंको का होगा जिसमें एक इंटरव्यू बोर्ड द्वारा आपसे कुछ प्रश्न पूछे जाते है

जिसके द्वारा आपकी मानसिक सतर्कता, आत्मसात की महत्वपूर्ण शक्तियां, स्पष्ट और तार्किक अभिव्यक्ति, निर्णय का संतुलन, विविधता और रुचि की गहराई, सामाजिक सामंजस्य और नेतृत्व की क्षमता, बौद्धिक और नैतिक अखंडता आदि गुणों की परख की जाती है।   

ये इंटरव्यू लगभग 45 मिनट का होता है जिसमे आपकी बॉडी लैंग्वेज से लेकर आपके बौद्धिक स्तर को परखा जाता है। इस इंटरव्यू के प्राप्तांक आपके फाइनल रैंकिंग में गिने जाते है।   

इसलिए इस अंतिम चरण को पार करने के लिए आप शुरुआत से ही अपने आप को मॉक इंटरव्यू से गुजारने की कोशिश करे ताकि अंत में आप इस last barrier को भी क्रॉस कर सके।   

अंत में:

तो दोस्तों आपने इस पोस्ट में जाना कि आप IAS ऑफिसर कैसे बनें? इसलिए अगर आप एक आई एस बनने की सोच रखते है तो इसके लिए आपको अभी से ही योजना बनाकर इसके लिए मेहनत करना शुरू कर देना चाहिये। 

अगर आपको ये पोस्ट पसंद आयी हो तो इसे अपने दोस्तों में भी शेयर करे और ऐसी ही और इंटरेस्टिंग जानकारी पाने के लिए हमारे इस ब्लॉग को सब्सक्राइब करे। 
धन्यवाद।

आप ये भी पढ़े:

Rakesh Verma

Rakesh Verma is a Blogger, Affiliate Marketer and passionate about Stock Photography.

Leave a Reply