Khush Kaise Rahe in Hindi, खुश रहने के राज़ क्या है ? | how to live a happy life

how to live a happy life (Khush Kaise Rahe, खुश रहने के राज़ क्या है?) दोस्तों, इस भागदौड़ भरी जिंदगी में ये सवाल हर किसी के मन में रहते है और ऐसे में हम सभी चाहते है कि ज़िंदगी कैसी भी हो, बस हम खुश रहे, परन्तु ख़ुशी एक ऐसी चीज है जिस पर किसी का जोर नहीं चलता साहब!! 

तो आखिर क्या करे कि जिससे हम अपने आपको खुश रख सके। तो घबराइए मत! और इस आर्टिकल को पूरा पढ़ने की कोशिश करे। 


मैं यकीन से कह सकता हूँ कि इसको पढ़ने के बाद आपके मन में ये सवाल फिर कभी नहीं आएगा कि हम Khush Kaise Rahe? या खुश रहने के राज़ क्या है ? 

इस आर्टिकल में मैं आपको खुश रहने के 20 ऐसे राज़ बताने जा रहा हु जिन्हे अपनाकर आप भी अपने जीवन को खुशियों से भर सकते हो। तो आइये अब हम इसके बारे में विस्तार से जानते है। 
Khush Kaise Rahe, Khush Rahne ke Tarike,how to become happy in life, secrets of happiness
Khush Kaise Rahe | Khush Rahne ke 20 Tarike 


Khush Kaise Rahe, खुश रहने के राज़ क्या है ?

1. आत्मनिर्भर बने:

आत्मनिर्भरता का मतलब है अपना हर काम स्वयं करना और किसी पर निर्भर नहीं रहना। अक्सर हम अपने छोटे छोटे कामो के लिए भी दुसरो के भरोसे बैठे रहते है और सोचते है कि वो फला व्यक्ति मेरा काम कर देगा क्यूंकि वो मेरा अच्छा मित्र है या मेरा सगा सम्बन्धी है। 

परन्तु दोस्तों आजकल हर कोई अपनी लाइफ में इतने व्यस्त रहते है कि उन्हें दूसरे काम की फुर्सत ही नहीं रहती है फिर भी हम उन्हें जोर देकर कहते रहते है कि please मेरा काम कर दो। 

ये भी हो सकता है कि आपका वो काम समय पर पूरा न हो या काम होने में देर हो जाये। तो ऐसी स्थिति में आप दुखी होकर बैठे रहते है। तो आप ही सोचिये इससे फायदा क्या हुआ बल्कि हम बिना वजह परेशान होकर बैठे रहे। इसलिए आप अपने छोटे मोटे काम खुद ही करने की आदत डाले और खुश रहे। 



2. स्वस्थ रहे:

अच्छा स्वास्थय ही जीवन की सच्ची ख़ुशी है मित्रों। और कहा भी जाता है "पहला सुख निरोगी काया"
इसलिए कोई चाहे कितनी ही लक्ज़री लाइफ जी रहा हो परन्तु यदि वो शरीर से स्वस्थ नहीं है तो वो कभी खुश नहीं रहेगा और हमेशा अपने स्वास्थय को लेकर चिंतित रहेगा। 

इसलिए अपने आप को स्वस्थ बनाये रखने के लिए नियमित रूप से व्यायाम करे, पौष्टिक आहार ले, सुबह शाम थोड़ा पैदल ही घूमे। इसके अलावा आप किसी भी प्रकार के नशे और दुर्व्यसनों से दूर रहे। 


3. दुसरो से तुलना न करे:

अपनी तुलना दुसरो से करना, ये बहुत ही गन्दी और बुरी बात है क्यूंकि इससे होता कुछ नहीं है बल्कि और हम अपने आपको दुखी करते जाते है और इसका कोई अंत भी नहीं है। 

इसके बजाय आप ये सोचे कि इस धरती पे हम सब अपने आप में यूनिक है, सभी में अलग अलग क्वालिटी है, सबका हुनर और इंटरेस्ट अलग अलग है। तो फिर अपनी तुलना दूसरों से क्यों? 

अपनी तुलना दुसरो से करना खुद का अपमान करने के बराबर है। आप अपने आप में श्रेष्ठ हो और सबसे अलग हो बस यही बात अपने मन में रखो और फिर देखना मित्रो आप कभी भी दुसरो को देखकर दुखी नहीं होंगे। 



4. खुद की कमजोरी दूर करे:

अगर आप किसी चीज में कमजोर है तो अक्सर लोग इस बात का फायदा भी उठाते है और इस को लेकर अक्सर आप परेशान भी रहते है। अतः आप अपनी उन कमियों को दूर करे जो आपको कमजोर बनाती है। 

5. अपना करियर खुद चुने:

जिस काम को करने में आपको ख़ुशी मिलती है या जिसमे आपका मन लगता है या यू कहे कि जो आपका ड्रीम है उसे ही आप अपने करियर के रूप में चुने। अगर आप ऐसा करते है तो आप अपने काम को एन्जॉय करेंगे और हमेशा ख़ुश रहेंगे।  

6. सुबह जल्दी उठे:

सुबह जल्दी उठकर आप दिन की शुरूआत करें। सुबह जल्दी उठने से आलस्य दूर होते है, शरीर ऊर्जावान बना रहता है और आप दिनभर तरोताजा महसूस करेंगे।   

7. अच्छे दोस्त बनाये:

दोस्त आपके जीवन में सुख दुःख के सच्चे साथी होते है जिनसे हम अपनी जिंदगी की हर एक बात शेयर कर सकते है। कोई भी ऐसी बात जो हम अपने परिवार को नहीं बता सकते उसे हम अपने दोस्तों को बताकर अपने मन को हल्का कर सकते है। इसलिए दोस्त भले ही कम हो परन्तु अच्छे होने चाहिए। 


8. परिवारिक रिश्ते मजबूत बनाये:

दोस्तों एक परिवार की अहमियत क्या होती है ये आप सब अच्छे से जानते हो। परन्तु परिवार में यदि कलह, विवाद या मनमुटाव हो तो इससे अच्छे खासे रिश्तो में भी दरार पड़ जाती है। 

अतः जरुरी है परिवार में हम अपनों की अहमियत को समझे और बड़े बुजुर्गो का आदर सम्मान करे, अपने से छोटो को प्यार दे और जरुरत के समय परिवारजनों की मदद करे। 

इससे रिश्तों में मजबूत होते है, परिवार में आपका मान सम्मान बढ़ता है और अंततः आपको अपार खुशिया प्राप्त होती है। 

9. खुद को पॉजिटिव रखे:

जीवन में उतार चढ़ाव आते रहते है। परन्तु एक पॉजिटिव विचारधारा वाला इंसान हमेशा अपने आपको विपरीत परिस्थितियों से भी बाहर निकाल लेने की ताकत रखता है। 

इसलिए आप अपने मन में कभी भी किसी भी प्रकार की नेगेटिविटी को न आने दे और हमेशा ये ही सोचे " जो होगा वो अच्छा ही होगा" 

10. अच्छा पैसा कमाये:

दोस्तों ये एक कड़वी सच्चाई है की पैसा आज के समय में सबसे अहम हिस्सा है जिंदगी का। ये इसलिए भी जरुरी है क्यूंकि पैसा एक इंसान की जिंदगी बदलने की ताकत रखता है। 

परन्तु मेरे कहने का ये मतलब बिलकुल नहीं है कि आपके पास करोड़ो की दौलत होना जरुरी है। 

आपके पास इतना पैसा तो होना चाहिए की जिससे आप अपने परिवार की जरूरते पूरी कर सके और जिसके लिए आपको कभी भी किसी के सामने हाथ न फैलाना पड़े और न ही दुखी होना पड़े। 

11. खुद को व्यस्त रखे:

हमेशा खुद को किसी न किसी काम में व्यस्त रखोगे तो दुखी होने का समय ही नहीं मिलेगा। इससे मन में उठने वाले फालतू विचार भी नहीं आते और लाइफ हमेशा पॉजिटिव बनी रहेगी। 



12. कल की चिंता छोड़ो वर्तमान में जिओ:

दुखी होने का ये एक बहुत बड़ा कारण है कि ज्यादातर लोग अपने भविष्य की चिंता कर करके ही दुःखी होते रहते है। उसके चक्कर में वो लोग अपने वर्तमान को भी ठीक से जी नहीं पाते और अपनी जिंदगी को ऐसे ही दुःख के साये में रहते हुए गुजार देते है। 

तो दोस्तों ज़रा सोचो कि क्या भविष्य आपके हाथ में है, क्या भविष्य में ठीक वैसा ही होगा जैसा आज आपने सोचा है? शायद आप भी कहेंगे की - बिलकुल नहीं। तो फिर ऐसा सोचना तो बिलकुल मूर्खता होगी। अतः आप कल की चिंता छोड़कर सिर्फ वर्तमान में जिओ और खुश रहो।  


13. ज्यादा की इच्छा न रखे:

दोस्तों कहा जाता है कि "अति हमेशा दुखदायी होती है।" यहाँ अति का मतलब ज्यादा की इच्छा रखने से है। इसे आप एक तरह से लालच भी कह सकते है और जिसकी पूर्ती कभी भी नहीं हो सकती। 

इसलिए मेरे दोस्तों आज से ही ऐसी इच्छा को त्याग दो और जो आपके पास है उसी में खुश रहने की कोशिश करो।  


14. खुद पर भरोसा करो:

जो इंसान खुद पर भरोसा रखता है वो कभी भी दुखी नहीं हो सकता क्यूंकि जो ऐसे इंसान कभी भी मन में ऐसी शंका नहीं रखते कि क्या मै सक्सेस हो पाउँगा, क्या मुझसे वो काम हो पायेगा, क्या इसका रिजल्ट मेरे मनमुताबिक होगा ? आदि आदि। 

इसलिए अगर आप भी ऐसा ही सोचते है तो अपनी इस आदत को बदलने की कोशिश करे। आप हमेशा खुश रहेंगे। 

15. अपना लक्ष्य हासिल करे:

कितना अच्छा लगता है ना जब आप अपना कोई टारगेट पूरा कर लेते है। सच में बहुत ही ख़ुशी होती है उस पल। तो बस आप भी अपनी ज़िंदगी में किसी बड़े लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए छोटे छोटे टारगेट बनाते जाये और उन्हें समय पे पूरा करते जाये। 


16. थोड़ा खुद को भी समय दे:

इस भागदौड़ भरी ज़िंदगी में हम काम में इतने व्यस्त रहते है कि एक तरह से खुद को भूल ही जाते है कि खुद के लिए भी हमे टाइम देना चाहिए। इसलिए लगातार काम की वजह से हम पॉज़िटिव और एनर्जेटिक नहीं रह पाते है।

इसलिए हफ्ते में एक बार अपने लिए भी टाइम निकाले और जिसमे आप प्रॉपर आराम करे और अपनी पसंदीदा जगह घूमने जाये, मन पसंद कपडे पहने, मूवी देखे, गेम खले और भी जो आपको लगता है वो आप करे। 

इससे आपका मन प्रसन्न रहेगा और फिर से आप अपने काम में लौट पाओगे वो भी मुस्कराह के साथ।  


17. गलत लोगो व गलत आदतों से दूर रहो:

गलत आदत और गलत लोगो का साथ आपको हमेशा दुखी ही करेगा। इसलिए आप जितना जल्दी हो सके इनसे दूर हटने की कोशिश करे। 

18. अच्छी किताबे पढ़ो:

किताबे जीवन की एक अच्छी दोस्त मानी जाती है। ये आपको अच्छा ज्ञान देती है और आपकी मंजिल तक ले जाने का रास्ता दिखाती है। इसलिए आप हमेशा अच्छी किताबे ही पढ़े और किसी निम्नस्तर के गंदे साहित्य से दूर रहे। 


19. थोड़ा आस्तिक भी बनो:

आस्तिक मतलब वो जो भगवान या ईशवर में विश्वाश करता है। जब भी हम किसी बात को लेकर परेशान  होते है तो हम अपने इष्ट देव की शरण में जाते है। इससे हमे मन की शांति मिलती है। 

अतः आप चाहे जिस भी धर्म को मानते हो परन्तु अपने भगवान् को जरूर याद करें। 

20. जिंदगी को अनमोल समझो:

सबसे बड़ी बात तो ये ही है दोस्तों, कि ज़िंदगी अनमोल है और इसलिए इसके हर पल का आनंद लेना सीखो। क्या पता "कल हो न हो" इसलिए इसे फुल एन्जॉय के साथ जिओ और हमेशा खुश रहने की कोशिश करते रहो। 


आखिर में, 
तो दोस्तों ये थे मेरे निजी विचार जिसमे मैंने बताया कि आप Khush Kaise Rahe और खुश रहने के तरीके क्या है ? ये आर्टिकल आपको कैसा लगा आप और इसके बारे में आपके क्या विचार है हमे कमेंट करके जरूर बताये। 

और हो सके तो इस आर्टिकल को अपने दोस्तों में भी शेयर करे ताकि उन्हें भी इसका लाभ मिल सके। 

ये आर्टिकल पढ़ने और हमारे इस ब्लॉग पर आने के लिए आपका धन्यवाद। 

आप ये भी पढ़े:












Post a Comment

2 Comments


  1. Nice Blog! Thanks to Admin for Sharing the list of Guest Blogging Sites. Really Guest Blogging is a best practice to build quality Do-Follow links. I Bookmarked this Link and Shared in Facebook. Keep Sharing such good Articles. Additionally, Addition to your Story here I am Contributing few more Similar Stories for Readers.

    https://urdutreasure8.blogspot.com/?m=1

    ReplyDelete

Please comment here